delhi Crime: राबिया हत्याकांड की हो CBI जांच‚ उठने लगी मांग

 | 
delhi Crime: राबिया हत्याकांड की हो CBI जांच‚ उठने लगी मांग

New delhi: सिविल डिफेंस कर्मी राबिया सैफी की हत्या का मामला लगातार तूल पकड़ता जा रहा है. पिछले कई दिनों से राबिया को इंसाफ दिलाने की मांग तेज होती जा रही है। घरवालों का आरोप है कि बड़ी साजिश के तहत राबिया की हत्या की गई है। पिछले दो हफ्तों से लोग राबिया को इंसाफ दिलाने के लिए विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। कई जगह लगातार कैंडल मार्च भी निकाला जा रहा है। लोग सीबीआई से इस मामले की जांच कराने की मांग कर रहे हैं।

delhi Crime: राबिया हत्याकांड की हो CBI जांच‚ उठने लगी मांग
आरोपी निजामुद्दीन और राबिया का फाइल फोटो

आपको बता दें कि दिल्ली के संगम विहार इलाके में रहने वाली राबिया की 27 अगस्त को फरीदाबाद के सूरजकुंड इलाके में ले जाकर बड़ी बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। उसके शरीर पर 50 से ज्यादा चाकुओं के घाव मिले थे। हत्यारे ने क्रूरता की सारी हदें पार करते हुए राबिया के शरीर के अलग-अलग टुकड़े कर दिए गए थे। यहां तक की उसके स्तनों को भी काट कर अलग फेंका गया था।

इस घटना का खुलासा तब हुआ था जब निजामुद्दीन नाम के एक आरोपी ने कालिंदीकुंज थाने में पहुंचकर सरेंडर कर दिया था और पुलिस को इस मामले की जानकारी दी थी। कालंदीकुंज पुलिस ने फरीदाबाद पुलिस से संपर्क करके निजामुद्दीन के कबूलनामें की जानकारी दी थी‚ जिसके बाद आरोपी को गिरफ्तार किया गया और घटनास्थल से राबिया का शव बरामद किया गया था।

ध्यान रहे कि निजामुद्दीन और राबिया दोनों ही सिविल डिफेंस कर्मी थे और साउथ ईस्ट डीएम ऑफिस में काम करते थे. यहीं दोनों की एक दूसरे से मुलाकात हुई थी. आरोपी ने पुलिस को बताया कि उसने राबिया से कोर्ट मैरिज की हुई थी। दोनों की शादी की जानकारी दोनों के घरवालों में किसी को नहीं थी. हालांकि अभी तक हत्या की वजह सामने नही आई है. घरवाले इसके पीछे एक बड़ी साजिश बताते हुए जांच सीबीआई से कराने की मांग कर रहे हैं।