मेरठ: एसिड अटैक में आंख गंवाने के बाद भी थाने से नही मिला इंसाफ,एडीजी से लगाई गुहार

 | 
मेरठ: एसिड अटैक में आंख गंवाने के बाद भी थाने से नही मिला इंसाफ,एडीजी से लगाई गुहार

Author: मनोज कुमार

मेरठ: एसिड अटैक में आंख गंवाने के बाद भी थाने से नही मिला इंसाफ,एडीजी से लगाई गुहार
एसिड अटैक पीड़िता: फोटो- आँखों देखी लाइव

पश्चिम उत्तर प्रदेश में एक एसिड अटैक पीड़िता न्याय की आस में दर-दर की ठोकरें खा रही है। एसिड अटैक पीड़िता अपने ऊपर हुए अत्याचार के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर एडीजी कार्यालय मेरठ पहुंची। जहां उसने आरोपियों पर कार्रवाई की मांग को लेकर पुलिस से गुहार लगाई । इतना ही नहीं महिला ने हापुड़ जिले के पिलखुवा पुलिस पर भी गंभीर आरोप लगाए हैं।

दरअसल मामला हापुड़ जिले के पिलखुवा थाना क्षेत्र के सिखेड़ा गांव का है। बच्चों के मामूली झगड़े के बाद गांव में रंजिश बन गई। जिसके बाद करीब एक महीना पहले साजिदा नाम की महिला के चेहरे पर गांव के ही कुछ लोगों ने उसके घर मे घुसकर तेजाब डाल दिया था। तेजाब अटैक में उसका चेहरा बुरी तरह झुलस गया। तथा उसकी आंख भी खत्म हो गयी। जिसके बाद महिला काफी दिनों तक दिल्ली के अस्पताल में भर्ती रही।

पुलिस ने इस मामले में मुकदमा तो दर्ज कर लिया। लेकिन आज तक कोई कार्यवाही नहीं की। आरोपी अभी भी खुले घूम रहे हैं और उसे व उसके परिवार वालों को इनसे जान का खतरा बना हुआ है।महिला का आरोप है कि पिलखुवा पुलिस उस पर बयान बदलने का दवाब बना रही है। वही न्याय की आस में वह अब एडीजी कार्यालय मेरठ पहुंची। जहां उसने अपनी समस्या बताकर अधिकारियों से इंसाफ मांगा। अधिकारियों ने महिला को इंसाफ दिलाने का भरोसा दिलाया है।