Karnal: हरियाणा के करनाल में किसानों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज‚ कई लोग घायल

 | 
Karnal: हरियाणा के करनाल में किसानों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज‚ कई लोग घायल
Karnal: हरियाणा के करनाल में किसानों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज‚ कई लोग घायल

Kisan andolan latest update: हरियाणा के करनाल में BJP की बैठक का विरोध कर रहे किसानों पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। पुलिस की पिटाई से कई किसान लहूलुहान हो गए। कृषि कानून विरोधी आंदोलन [anti-agriculture movement] के नेता और भारतीय किसान संघ ख् Indian Farmers Association] के प्रवक्ता राकेश टिकैत [Rakesh Tikait] ने पुलिस की इस कार्रवाई पर कड़ी नाराजगी जताई है. उन्होने कहा है कि हरियाणा के बस्ताड़ा टोल प्लाजा [ Bastara Toll Plaza] पर प्रदर्शन कर रहे किसानों की पिटाई एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। राकेश टिकैत ने सरकार पर मुजफ्फरनगर की 5 सितंबर की महापंचायत से ध्यान भटकाने की कोशिश करने का आरोप लगाया है।

वास्तव में क्या हुआ?
हरियाणा में होने जा रहे स्थानीय पंचायत चुनाव की तैयारी के लिए भाजपा ने करनाल में राज्य स्तरीय बैठक का आयोजन किया था. बैठक में मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर और अन्य भाजपा नेताओं ने भाग लिया। शुक्रवार को हुई इस बैठक का किसानों ने विरोध करने का ऐलान किया था। इसलिए भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था। आक्रामक किसानों ने राष्ट्रीय राजमार्ग 44 पर बस्तांडा टोल प्लाजा को जाम कर दिया था. पुलिस जब दोपहर में किसानों का हाल जानने के लिए उनके पास गई तो तनाव बढ़ गया। हंगाम बढ़ता हुआ देख पुलिस ने किसानों पर लाठीचार्ज कर दिया।

कांग्रेस ने की केंद्र सरकार की आलोचना
कांग्रेस नेता और युवा कांग्रेस अध्यक्ष श्रीनिवास ने किसानों पर पुलिस के लाठीचार्ज पर नरेंद्र मोदी सरकार और हरियाणा सरकार की निंदा की है। श्रीनिवास ने ट्वीट कर कहा है कि‚ “मारिये-मारिये किसान है, इनकी हिम्मत कैसे हुई उद्योगपति सरकार से अपना हक मांगने की..! लेकिन दिल पर हाथ रखकर बताइए, क्या ये जय जवान-जय किसान वाला भारत है?

वहीं लाठीचार्ज होने के बाद किसानों ने भी आक्रामक रुख अख्तियार कर लिया है. भारतीय किसान संघ के गुरनाम सिंह चधुनी ने कहा कि पुलिस ने किसानों को करनाल में प्रवेश करने से रोक दिया है। बस्ताड़ा टोल प्लाजा पर लाठी चार्ज कर किसानों को घायल करना गलत है। चधुनी ने कहा, “किसानों को जहां भी संभव हो, सड़क को अवरुद्ध करना चाहिए।”