SDM ने दिया पुलिस को आदेश‚ फोड़ दो किसानों का सिर‚ डिप्टी CM बोले होगी कार्रवाई

 | 
SDM ने दिया पुलिस को आदेश‚ फोड़ दो किसानों का सिर‚ डिप्टी CM बोले होगी कार्रवाई
SDM ने दिया पुलिस को आदेश‚ फोड़ दो किसानों का सिर‚ डिप्टी CM बोले होगी कार्रवाई
एसडीएम – आयुष सिन्हा

Haryana news: हरियाणा के करनाल [Karnal] में शनिवार को प्रदर्शनकारी किसानों [protesting farmers] पर लाठी चार्ज करने का आदेश देने वाले SDM आयुष सिन्हा के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। एसडीएम आयुष सिन्हा [SDM Ayush Sinha] ने रविवार को करनाल के टोल प्लाजा [toll plaza] पर प्रदर्शन कर रहे किसानों के सिर पर प्रहार करने का आदेश पुलिसकर्मियों को दिया था। एसडीएम का एक वीडियो भी सामने आया है जिसमें वह किसानों के सिर पर प्रहार करने की बात कह रहे हैं।

मामला सामने आने के बाद रविवार को दिन भर हड़कंप की स्थिति बनी रही। न्यूज़ एजेंसी एनआईए ने इस संबंध में जब हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला से बातचीत की तो उन्होंने कहा कि किसानों के लिए एक आईएएस अधिकारी द्वारा इस तरह के शब्दों का प्रयोग करना बेहद निंदनीय है। निश्चित तौर पर सरकार के द्वारा उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

क्या हुआ था कल ?

आपको बता दें कि हरियाणा में होने वाले स्थानीय पंचायत चुनाव की तैयारी को लेकर भारतीय जनता पार्टी ने शनिवार को करनाल में एक राज्य स्तरीय बैठक का आयोजन किया था। इस बैठक का किसान विरोध कर रहे थे। बैठक के विरोध में किसानों ने राष्ट्रीय राजमार्ग 44 पर बस्तांडा टोल प्लाजा को जाम कर दिया था। किसानों को हटाने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया था। इसमें कई किसान गंभीर रूप से घायल भी हुए थे।

लाठीचार्ज से पहले का एक वीडियो सामने आया है जिसमें एसडीएम आयुष सिन्हा यह कहते हुए नजर आ रहे हैं कि अगर किसान बैरिकेड पार करने की कोशिश करेंगे तो उनके सिर पर प्रहार करो। इस वीडियो को भाजपा सांसद वरुण गांधी ने शेयर करते हुए लिखा था कि मुझे उम्मीद है कि यह वीडियो एडिट किया गया है। शायद एसडीएम ने ऐसा नहीं कहा होगा‚ लेकिन अगर ऐसा कहा है तो हमारे अपने नागरिकों के लिए लोकतांत्रिक भारत में यह अस्वीकार्य है।

क्या बोले SDM ?

वायरल वीडियो में आप सुन सकते हैं कि एसडीएम आयुष सिन्हा पुलिस से कह रहे हैं कि “यह बहुत सरल और स्पष्ट है‚ हम कोई भी हो‚ चाहे कहीं से भी हो‚ किसी को भी वहां पहुंचने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। हम इस लाइन को किसी भी कीमत पर टूटने नहीं देंगे। बस अपनी लाठी उठाओ और उन्हें जोर से मारो। यह बहुत ही स्पष्ट है किसी निर्देश की कोई आवश्यकता नहीं है‚ बस उन्हें जोर से पीटो‚ अगर मैं यहां एक भी प्रदर्शनकारी को देखता हूं तो मैं उसका सिर फोड़ते देखना चाहता हूं।

पूर्व सीएम ने बोला सरकार पर हमला

वीडियो सामने आने के बाद राज्य में राजनीति भी तेज हो गई है। हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा है कि लोकतंत्र किसानों पर लाठीचार्ज और गोलियों से नहीं चलाया जा सकता है। सरकार लोगों का दिल जीतने से चलती है। समस्या का समाधान भी बातचीत से ही निकाला जा सकता है। पूर्व सीएम ने कहा कि लाठी चलाने से आवाज नहीं दबती है। कल जो कुछ भी हुआ उसकी उच्च स्तरीय जांच की जानी चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि किसी अधिकारी को पुलिस को इस तरह का निर्देश देने का बिल्कुल भी अधिकार नहीं है।

यह भी पढ़ें- SP को थप्पड़ मारने के आरोपी को BJP ने बनाया जिलाध्यक्ष