हैवानियतǃ जयपुर में 4 साल की मासूम बच्ची की रेप के बाद हत्या‚ 600 पुलिसवालों ने मिलकर गिरफ्तार किया आरोपी

 | 
हैवानियतǃ जयपुर में 4 साल की मासूम बच्ची की रेप के बाद हत्या‚ 600 पुलिसवालों ने मिलकर गिरफ्तार किया आरोपी
हैवानियतǃ जयपुर में 4 साल की मासूम बच्ची की रेप के बाद हत्या‚ 600 पुलिसवालों ने मिलकर गिरफ्तार किया आरोपी
जमीन पर बैठा इंसान के वेश में हैवान दरिंदा

Jaipur news: राजस्थान में रोजाना महिलाओं और मासूम बच्चों के साथ दरिंदगी की खौफनाक खबरें सामने आ रही है। ऐसा ही एक मामला राजस्थान के जयपुर स्थित नरेना से सामने आया है। जहां एक वहशी दरिंदे ने 4 साल की मासूम बच्ची के साथ पहले दुष्कर्म किया और फिर उसे जिंदा ही तालाब में फेंक दिया। डूबने से मासूम की दर्दनाक मौत हो गई।

इस मामले में जयपुर पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि घटना के तुरंत बाद एसपी मौके पर पहुंचे और खुलासे के लिए लगभग 600 पुलिसवालों को लगा दिया। पुलिस की तत्परता का नतीजा यह रहा कि वारदात के करीब 24 घंटे बाद पुलिस ने इस राक्षस को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस ने बताया कि आरोपी ने 12 अगस्त को घर के बाहर खेलती हुई 4 साल की मासूम बच्ची का अपहरण कर लिया था‚ जिसे सुनसान स्थान पर ले जाकर दरिंदे ने उसके साथ मुंह काला किया। इस दौरान कुछ लोग ट्रैक्टर से गुजर रहे थे जिन्हें देखकर आरोपी डर गया और पकड़े जाने के डर से मासूम बच्ची को जिंदा ही तालाब में फेंककर फरार हो गया। दुख की बात ये है कि ट्रैक्टर पर सवार लोगों को भी इस बारे में कोई जानकारी नही लगी।

पुलिस के अनुसार घटना वाले दिन बच्ची अपने घर के बाहर अन्य बच्चों के साथ खेल रही थी। तभी आरोपी आरोपी सुरेश कुमार बलाई नशे में धुत होकर बाइक से वहां पहुंचा। मासूम बच्ची बाइक पर बैठने के लालच से उसके पास पहुंच गई। अरोपी उसे बाइक पर बैठाकर जंगल की ओर निकल गया जहां उसने हैवानियत काे अंजाम दिया। इस दौरान मामूम दर्द से तड़तपी रही लेकिन हैवान को उस पर जरा भी रहम नही आया। इससे भी वहशीपन आरोपी ने तब किया जब कुछ लोगों को अपनी ओर आता देख उसने बच्ची को उसी हालत में तालाब में फेंक दिया और फरार हो गया।

बच्ची के पिता ने इस मामले में नरेना थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इसके बाद अगली सुबह मासूम का शव तालाब में तैरता हुआ मिला। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सामने आया कि बच्ची के साथ बेहद ही हैवानियत के साथ दुष्कर्म किया गया और उसके बाद उसे तालाब में फेंका गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आने के बाद एसपी ने इस मामले में प्रमुखता से एक्शन लिया।

मामले का पर्दाफाश करने के लिए पुलिस अधीक्षक ने 20 थानों की पुलिस के करीब 600 पुलिसकर्मियों को लगा दिया। एसपी ने साफ आदेश किया उन्हे हर हाल में आरोपी चाहिए। वारदात पर्दाफाश के लिए तीन अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, तीन पुलिस उप अधीक्षक, और 20 थानों के थानाधिकारी समेत करीब 600 पुलिसवालों कार्मिकों को लगाया गया। अभियान के तहत पुलिस ने करीब 24 घंटे की मशक्कत के बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।

यह भी पढ़ें

Haryana Crime: सोनीपत में दो सगी बहनों की गैंगरेप के बाद हत्या‚ आरोपी फरार

दिल्ली: शमशाम घाट मे 9 वर्षीय बच्ची के साथ गैंगरेप के बाद हत्या,पुजारी सहित 4 गिरफ्तार