Heavy Rains In Uttarakhand: उत्तराखंड में भारी बारिश से तबाही, देहरादून-ऋषिकेश संपर्क पुल पानी में बहा‚ कई गाड़ियां लापता

 | 
Heavy Rains In Uttarakhand: उत्तराखंड में भारी बारिश से तबाही, देहरादून-ऋषिकेश संपर्क पुल पानी में बहा‚ कई गाड़ियां लापता
Heavy Rains In Uttarakhand: उत्तराखंड में भारी बारिश से तबाही, देहरादून-ऋषिकेश संपर्क पुल पानी में बहा‚ कई गाड़ियां लापता
फोटो साभार- आज तक

Uttarakhand Weather update: उत्तराखंड में पिछले 48 घंटों से मूसलाधार बारिश [torrential rain] हो रही है‚ जिसके चलते राज्य में जगह-जगह तबाही के मंजर नजर आ रहे हैं। शुक्रवार को भारी बारिश होने के कारण रानी पोखरी के नजदीक ऋषिकेश – देहरादून संपर्क पुल [ Rishikesh – Dehradun Connectivity Bridge ] टूट गया है। पुल टूटने से कई वाहन क्षतिग्रस्त हो गए हैं और कई पानी में बह गए हैं। इसके अलावा मालदेवता सहस्त्रधारा लिंक रोड भी कई मीटर तक नदी में बह गया है।

घटना खेड़ी गांव की है जहां बारिश की वजह से सड़क नदी में समा गई है। इस दौरान 2 गाड़ियों के पानी में बह जाने की भी खबर है। फिलहाल रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है। दूसरी और मौसम विभाग ने अभी और भारी बारिश के अलर्ट जारी किया है। उत्तराखंड के 5 जिलों में मौसम विभाग ने भारी बारिश की चेतावनी दी है। जिन जिलों में चेतावनी जारी की गई है उनमें नैनीताल‚ उधम सिंह नगर‚ चंपावत‚ पिथौरागढ़ और बागेश्वर जनपद शामिल है। मौसम विभाग ने टिहरी‚ देहरादून‚ पौड़ी‚ जिलों के कुछ हिस्सों में भी भारी बारिश की संभावना चेतावनी देते हुए येलो अलर्ट दे रखा है।

आपको बता दें कि इससे पहले बुधवार को भी उत्तराखंड में शहर की बाहरी सीमा पर स्थित पतला देवी मंदिर के पास बादल फटने से कई नदियों में बाढ़ आ गई है। आपदा प्रबंधन अधिकारियों के अनुसार मंगलवार देर रात बादल फटने के बाद बाढ़ का पानी अचानक से लोगों के घरों में घुस गया। बिजली के खंभे और पेड़ जगह-जगह गिरे हुए हैं। कुछ जगह दो पहिया वाहन भी पानी में बह गए हैं। हालांकि इस दौरान किसी की जान नहीं गई है।

उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जनपद में भी बुलावाकोर्ट के जोशी गांव में बादल फटने से भारी तबाही हुई है। मलबे में एक महिला के दबे होने की आशंका है। एनडीआरएफ की टीम महिला की तलाश में लगी हुई हैं। मलवा हटाने के लिए जेसीबी मशीनों का सहारा लिया जा रहा है। वही भू संकलन की वजह से दर्जनभर परिवारों को खतरा पैदा हो गया है। इस परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया है।