Shamli: इंस्पेक्टर की बदसलूकी से तंग आकर धरने पर बैठे व्यापारी‚ लगाए गंभीर आरोप

 | 
Shamli: इंस्पेक्टर की बदसलूकी से तंग आकर धरने पर बैठे व्यापारी‚ लगाए गंभीर आरोप

कैराना। शामली के कैराना में कोतवाल पर आधा दर्जन व्यापारियों को उठाकर ले जाने का आरोप लगाते हुए दर्जनों व्यापारी धरने पर बैठ गए। इसके बाद हड़कंप मच गया। आनन-फानन में पुलिस व्यापारियों की मनाने में जुट गई जिसके बाद व्यापार मंडल के प्रदेश उपाध्यक्ष के आश्वासन पर व्यापारियों ने धरना समाप्त किया।

Shamli: इंस्पेक्टर की बदसलूकी से तंग आकर धरने पर बैठे व्यापारी‚ लगाए गंभीर आरोप
पुलिस के खिलाफ धरने पर बैठे व्यापारी


मामला शुक्रवार शाम करीब 7:30 बजे का है। उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार मंडल के नगर अध्यक्ष विपुल कुमार जैन के नेतृत्व में दर्जनों व्यापारी चौक बाजार में धरने पर बैठ गए। व्यापार मंडल के नगर अध्यक्ष ने बताया कि शाम करीब 6 बजे कोतवाली प्रभारी प्रेमवीर राणा बाजार में आए थे। इस दौरान दुकानों के आगे अतिक्रमण करने के नाम पर पुलिस दुकानदार राम कुमार, अमित कुमार, अंकित कुमार, सुनील कुमार, मोमिन व पंकज जैन को पकड़कर थाने ले गई।

कोतवाली प्रभारी पर व्यापारियों को अपमानित करने का भी आरोप है। इसके साथ ही नगर अध्यक्ष ने बताया कि पिछले दिनों पुलिस द्वारा बाजार में व्यापारियों से 100-100 रुपए लिए गए थे तथा उनको रुपए लेने से संबंधित कोई रसीद भी नहीं दी गई। इस दौरान करीब 1 घंटे तक व्यापारियों का धरना प्रदर्शन चलता रहा। व्यापारियों द्वारा मांग की गई कि या तो कोतवाल व्यापारियों से आकर माफी मांगे या उच्चाधिकारी ऐसे पुलिस प्रशासन को यहां से हटाए।

यह भी पढ़ें- UP Honor Killing: प्रेम प्रसंग के चलते पिता ने बेटी का गला घोंटकर मार डाला

व्यापारियों के धरना प्रदर्शन की सूचना पर व्यापार मंडल के प्रदेश उपाध्यक्ष अंकित गोयल व्यापारियों के बीच पहुंचे तथा व्यापारियों से बातचीत की। बाद में कोतवाली प्रभारी भी मौके पर पहुंचे तथा व्यापारियों से कहा कि व्यापार मंडल के पदाधिकारी दुकानों के आगे निशान लगा दे निशान से आगे कोई भी अतिक्रमण न करें और वें किसी के साथ भेदभाव नहीं करेंगे।

बाद में प्रदेश उपाध्यक्ष के आश्वासन पर सभी व्यापारियों ने धरना समाप्त किया इस दौरान दर्जनों व्यापारी मौजूद रहे। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक प्रेमवीर सिंह राणा ने कहा कि कुछ व्यापारी अतिक्रमण कर रहे थे जिनको बार बार चेतावनी दी गई थी। जिस को लेकर व्यापारीयों को कोतवाली लाया गया था। ताकि अतिक्रमण की समस्या का समाधान किया जा सके।

यह भी पढ़ें- Bihar: मंदिर में पूजा करने गई महिला के बाल पकड़कर पुजारी ने की मारपीट‚ वीडियो वायरल