Afghanistan crisis: चीन‚ रूस सहित ये चार देश देंगे तालिबानी सरकार काे मान्यता

 | 
Afghanistan crisis: चीन‚ रूस सहित ये चार देश देंगे तालिबानी सरकार काे मान्यता

Afghanistan crisis: हथियारों के बल पर अफगानिस्तान में आतंकी संगठन तालिबान द्वारा बनाई गई सरकार को UK/US और भारत सहित कई देशों ने मान्यता देने से इनकार कर दिया है। इसके उलट चीन सहित कई देशों ने तालिबानी सरकार को मान्यता देने की घोषणा कर दी है। इन देशों में चीन‚ रूस‚ तुर्की और पाकिस्तान का नाम शामिल है।

Afghanistan crisis: चीन‚ रूस सहित ये चार देश देंगे तालिबानी सरकार काे मान्यता

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यह चारों देश पहले की तरह अफगानिस्तान में अपने दूतावास सुचारू रखेंगे। सोमवार को चीन ने स्पष्ट कर दिया है कि वह अफगानिस्तान में बनने जा रही नहीं तालिबानी सरकार के साथ दोस्ताना रिश्ते रखना चाहता है। न्यूज़ एजेंसी एएफ़पी के मुताबिक चीन का कहना है कि अफगानिस्तान तालिबान के साथ मैत्रीपूर्ण संबंध बनाने के लिए तैयार है।

चीन के अलावा रूस ने भी कहा है कि तालिबान के व्यवहार के ऊपर निर्भर करेगा कि उसे मान्यता दी जाए या ना दी जाए। वही तुर्की और पाकिस्तान पहले से ही तालिबान के कट्टर समर्थक हैं। लिहाजा यह माना जा रहा है दोनों देश तालिबानी सरकार को मान्यता देने में जरा भी देर नहीं लगाएंगे। इसकी मुख्य वजह है कि तालिबान का मुख्यालय भी पाकिस्तान में है। ऐसे में पाकिस्तान का तालिबान को समर्थन देना जगजाहिर है।

भारतीय विदेश मंत्रालय ने भी अफगानिस्तान में हो रही हिंसा के पीछे पाकिस्तान से मिल रहे समर्थन को जिम्मेदार माना था. विदेश मंत्रालय बयान जारी कर कहा था कि ‘दुनिया को पता है तालिबान को पाकिस्तान के जिहादियों और आतंकवादियों का समर्थन मिल रहा है. दुनिया इससे वाकिफ है और ये बताने की जरूरत नहीं।

यह भी पढ़ें