Game Addiction: रातभर जागकर गेम खेलता था बेटा‚ नींद की कमी से हुई मौत

 | 
Game Addiction: रातभर जागकर गेम खेलता था बेटा‚ नींद की कमी से हुई मौत
Game Addiction: रातभर जागकर गेम खेलता था बेटा‚ नींद की कमी से हुई मौत
फोटो साभार- सोशल मीडिया

Side effects of video game: डिजिटल दौर में छोटे-छोटे बच्चों को मोबाइल की लत [Mobile addiction] इस कदर लग चुकी है कि वो खाना पीना छोड़कर मोबाइल में लगे रहते हैं। कुछ ऑनलाइन गेम बच्चों को अपनी ओर इस कदर आकर्षित कर रहे हैं जिसके चलते कई बच्चों के लिए है यह जानलेवा भी साबित हो रहे हैं।

ऐसा ही एक मामला थाईलैंड से सामने आया है जहां 18 साल के एक लड़के की मोबाइल गेम खेलने से मौत हो गई। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यह लड़का रात- रातभर जाग कर ऑनलाइन गेम खेलता था। माता- पिता के कहने के बावजूद भी लड़का गेम खेलने की आदत नहीं छोड़ पा रहा था। गेम की लत की वजह से वह प्रयाप्त नींद भी नही लेता था। पुलिस के अनुसार नींद की कमी होने के कारण लड़के की मौत हुई है।

मृतक लड़के की मां का कहना है कि उन्हें अपने बेटे के गेम एडिक्शन को लेकर कभी ज्यादा चिंता नहीं हुई। उनका बेटा अपना ज्यादा समय मोबाइल में गेम खेलने में ही गुजारता था। कभी वह कंप्यूटर तो कभी मोबाइल पर गेम खेलता था। वह बेटे के बगल वाले कमरे में सोती थी।

मां के अनुसार बेटा रात भर जागकर गेम खेलता था और रात में ही नहाता था। अक्सर उसके कमरे से बाथरूम में की आवाज आती थी। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक लड़का पूरी रात दरवाजा बंद करके गेम खेलता था। इसी बीच एक दिन रात में लड़के ने अपना फोन नहीं उठाया और ना ही उसका दरवाजा खुल रहा था।

यह भी पढ़ें- सांप का सूप बनाने के लिए शेफ ने किए कोबरा के टुकड़े‚ कटे हुए सिर ने लिया मौत का बदला

पड़ोसियों की मदद से दरवाजा तोड़ा गया तो वह बिना शर्ट के बेसुध पड़ा हुआ मिला। उसके पास ही उसका मोबाइल भी पड़ा था। पुलिस के अनुसार लड़का ज्यादा सोता नहीं था उसके शरीर को आराम नहीं मिल रहा था। ऐसे में संभव है कि उसकी मौत नींद की कमी होने से दिल का दौरा पड़ने के कारण हुई है। आपको बता दें कि थाईलैंड में अब से पहले भी एक लड़के की मौत गेम एडिक्शन से हो चुकी है। वह भी रात भर जागकर गेम खेलता था।

यह भी पढ़ें- काबुल एयरपोर्ट पर 3 हज़ार में पानी की बोतल, 7 हज़ार में मिल रहे एक प्लेट चावल, भूख-प्यास से तड़प रहे लोग