बिमारी का बहाना बनाकर 769 दिन मौज-मस्ती करता रहा सरकारी टीचर‚ ऐसे खुली पोल

 | 
बिमारी का बहाना बनाकर 769 दिन मौज-मस्ती करता रहा सरकारी टीचर‚ ऐसे खुली पोल

Shoking news: बेरोजगारी एक ऐसी समस्या है जो हमारे देश में ही नहीं दुनिया भर में फैली हुई है। ऐसे में अगर किसी को सरकारी नौकरी मिल जाए तो वह पूरी लगन और मेहनत के साथ अपनी नौकरी करता है। लेकिन इटली से एक ऐसा मामला सामने आया है जहां एक सरकारी टीचर ने मात्र 3 साल की नौकरी में 769 दिन छुट्टी में ही बिता दिए।

बिमारी का बहाना बनाकर 769 दिन मौज-मस्ती करता रहा सरकारी टीचर‚ ऐसे खुली पोल

हैरानी की बात यह है कि इस टीचर ने बीमारी का बहाना बनाकर इतनी लंबी छुट्टियां ली और इन छुट्टियों में मौज मस्ती करता रहा। हालांकि टीचर का झूठ उस समय पकड़ा गया जब शिक्षा विभाग ने टीचर की शिकायत पुलिस से कर दी। पुलिस ने जांच की तो पता चला आरोपी पूरी तरह से ठीक है और वह अलग-अलग बहाने बनाकर बेवजह ड्यूटी से गायब चल रहा था।

पुलिस जांच में सामने यह भी आया कि आरोपी टीचर मौज- मस्ती करने के साथ-साथ कई और दूसरी कंपनियों में नौकरी भी कर रहा था। इन कंपनियों में नौकरी करके उसने लाखों रुपए भी कमा लिए थे। इसके साथ वह स्कूल से भी अपनी पूरी सैलरी ले रहा था।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक 43 वर्षीय स्कूल टीचर की नौकरी करीब 3 साल पहले शिक्षा विभाग में लगी थी। नौकरी के कुछ दिन बाद ही उसने बीमारी का बहाना बनाना शुरु कर दिया। टीचर नहीं 459 दिन बीमारी की छुट्टी ली‚ जबकि बाकी के 310 दिन पैरेंटल लीव पर चला गया। टीचर ने स्कूल में बता रखा था कि उसके घर पर एक छोटा बच्चा है और फिलहाल उसे उसकी देखभाल करनी पड़ रही है।

टीचर की पोल उस समय खुल गई जब स्कूल के अधिकारियों ने उससे मेडिकल सर्टिफिकेट की मांग की। बार-बार कहने के बाद भी टीचर ने मेडिकल सर्टिफिकेट नहीं दिखाया‚ जिसके बाद अधिकारियों ने मामले की शिकायत पुलिस से कर दी। पुलिस जांच में टीचर के पूरे खेल का भंडाफोड़ हो गया।