जींस पहनने पर तालिबान लड़ाकों ने युवाओं पर बरसाए बीच सड़क कोड़े

 | 
जींस पहनने पर तालिबान लड़ाकों ने युवाओं पर बरसाए बीच सड़क कोड़े

Afganistan news: अफगानिस्तान पर तालिबान ने अवैध कब्जा करने के बाद अब आम जनता पर जुल्म ढाना शुरू कर दिया है। तालिबान के लड़ाके लोगों को पश्चिमी कपड़े पहनने पर बीच सड़क पर सजा दे रहे हैं‚ और युवाओं पर कोड़े बरसा रहे हैं।

जींस पहनने पर तालिबान लड़ाकों ने युवाओं पर बरसाए बीच सड़क कोड़े

डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक कुछ युवाओं ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर कहा है कि उन पर इस्लाम का अनादर करने का आरोप लगाने के बाद जींस पहनने पर तालिबान के लड़ाकों ने कोड़े बरसाए हैं। पोस्ट में यह भी कहा गया है कि कुछ युवक काबुल की सड़कों पर दोस्तों के साथ घूम रहे थे। इसी दौरान तालिबान लड़ाकों से इन युवकों का सामना हो गया।

तालिबान लड़ाकों ने तीन युवकों को पकड़ लिया हालांकि कुछ युवक इस दौरान मौके से फरार हो गए। आरोप है कि सभी युवकों को सड़क पर पीटा गया और कोड़े बरसाए गए। तालिबान के एक आदमी ने स्थानीय अखबार Etilaatroz को बताया कि अभी भी पुरुषों के लिए ड्रेस कोड पर फैसला करना बाकी है।

यह भी पढ़ें- तालिबान ने महिला न्यूज़ एंकर को चैनल से भगाया‚ दी जान से मारने की धमकी

बताया जा रहा है कि तालिबान पश्चिमी देशों के कपड़ों को बिल्कुल भी देश में अनुमति देने के लिए तैयार नहीं है। वह केवल अफगान पोशाक ही पहनने की अनुमति देगा। टेलीग्राफ रिपोर्ट के मुताबिक पिछले कुछ दिनों में बुर्के की कीमतों में भी 2 गुना वृद्धि हो गई है। रिपोर्ट के अनुसार अखबार ने बताया है कि उसके एक पत्रकार को भी अफगान कपड़े नहीं पहने पर पीटा गया है।

आपको बता दें कि 1996 के दौरान अफगानिस्तान में तालिबान का शासन था। उस दौरान भी पुरुषों को पारंपरिक वस्त्र पहनने पड़ते थे। वहीं लड़कियों को 8 साल की उम्र से ही बुर्का पहनने के लिए मजबूर कर दिया जाता था। विशेष बात यह है कि तालिबान लोगों को जबरन अपना यह आदेश थोप रहा है जबकि खुद उसके लड़ाके पश्चिमी पोशाक पहने हुए नजर आते हैं।

यह भी पढ़ें- Afghanistan: कॉलेज और विश्वविद्यालयों में लड़कों के साथ पढ़ाई नही कर पाएंगी लड़कियां, तालिबान ने लगाया प्रतिबंध